बाउंस रेट क्या है और कैसे कम करें?

Spread the love
Bounce Rate-quickdiscuss

Bounce Rate Kya Hai बाउंस एक अंग्रेजी शब्द है जिसका हिंदी मतलब उछल, कूद होता है. वेबसाइट पर भी यह उछल कूद लगा रहता है. कहने का मतलब जब कोई यूजर वेबसाइट के किसी पेज पर आया और वह उसी पेज से वापस हो गया या वेबसाइट का कोई और पेज भी चेक किया. यदि आप एक Website Owner या Blogger हैं तो कुछ Technical Term (Alexa Rank, Site Speed, Traffic, Daily Page Views, Bounce Rate) से आप जरूर परिचित होंगे. ये सभी Term SEO Purpose से Use होता है. हर एक Blogger का यह ख्वाहिश होता है उसके Blog का Reader दिन प्रतिदिन बढे. उसके Post को Line By Line पढ़े, Blog के ज्यादा से ज्यादा Post को पढ़े. आज के इस Post में हम Bounce Rate Kya Hai इसके बारें में बात करेंगे. Bounce Rate की जानकारी सभी Website Admin को होना जरूरी है, ताकि Website के Traffic का सही Use कर सकें.

Internet Users daily Google पर कुछ न कुछ Search करते हैं. इस Search के क्रम में Google SERP (Search Engine Page Result) कई Website के Link को Suggest करता है. इनमे से जो Link या Website सही लगता है उसे Open कर User information collect कर लेता है. यदि Article में कोई Unknown Word Use किया गया हो साथ ही वो Unknown Word किसी Link से Connected हो तो User उस Link को भी Open करता है. Site का Design, Blog Post Writing Format, Post Value User को अच्छा लगता है तो User regular site Visit करने लगता है.

Bounce Rate Kya Hai

Bounce Rate दो Word से मिलकर बना है. पहला Bounce जिसका मतलब है Jump or उछाल. दूसरा Rate जिसका मतलब है Quantity or Frequency or दर. Bounce Rate उछलने का दर होता है, यह बिलकुल सही है. इस Term को अच्छे से Explain करता हूँ.

किसी Particular Website का ऐसा Visitors जो Website के किसी एक Page से ही वापिस हो जाता है.”

OR

“The percentage of visitors to a particular website who navigate away from the site after viewing only one page.”

यह Rate Percentage में होता है.

Example : मेरे Blog का Bounce Rate 68 % है that means कि 68 % ऐसे Users हैं जिन्होंने Blog का कोई एक Page ही Open किया. इससे आप समझ सकते हैं Bounce Rate जितना कम हो अच्छी बात है. 26 से 40 % के Bounce Rate को Ideal माना जाता है. यदि आपके Blog का Bounce Rate इससे भी कम है तो बहुत अच्छी बात है. लेकिन ऐसे Blog और Website बहुत कम है जिनका Bounce Rate 26 % से भी कम है. 41 से 70 % के Bounce Rate Average Rate होता है. लेकिन इससे ज्यादा है तो इस Subject पर ध्यान देने की जरूरत है.

Standard Bounce Rate for Websites and Blog

  • Content Website – 40 – 60 %
  • Lead Generation Website – 30 – 50 %
  • Retail Business Website – 20 – 40 %
  • Service Provider Website – 10 – 30 %
  • Landing Pages Website – 70 – 90 %
  • Blogs – 70 – 98 %

अब तक हमनें Bounce Rate के बारें में जान लिया. क्या आप Bounce Rate Check करने जानते हैं? यदि हाँ तो आपके Blog या Website का Bounce Rate क्या है Comment में जरूर बताएं. यदि नहीं तो Bounce Rate निकलना सीखें then बताये आपके Website या Blog का क्या है.

How To Check Bounce Rate

Internet पर कई Sites Available हैं जहाँ Bounce Rate Check किया जा सकता है. लेकिन इन सब में से Google Analytic और Alexa दो ज्यादा अच्छा है. एक नए Blogger के लिए बहुत जरुरी है Bounce Rate जानना जिससे According to Bounce Rate Site में सुधर कर सकें.

How to check Bounce Rate by using ALEXA

Alexa की मदद से Check करने के लिए www.alexa.com/siteinfo को Open करें या यहाँ Click करें. यहाँ Search Box में domain address type कर Find Button Hit करें. यह Website का सभी Details बताता है.

  • Alexa Rank
  • Audience Geography
  • Engagement (Engagement, Daily Page Views Per Visitor and daily time on site)
  • Top Keyword from Search Engine
  • Total sites linking in
  • Related Sites

How to check Bounce Rate by using Google Analytics

Daily, Monthly या Weekly जैसे भी चाहो आप Traffic Record Check कर सकते हैं सभी Option में Bounce rate भी दिखता है. इसके लिए Blog का Analytics से connect होना बहुत जरूरी है.

Reasons For High Bounce Rate

High Bounce Rate Website या Blog के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं. Bounce rate कम होने का मतलब User site के कई Page को Open करता है. इसके कई कारण हो सकते हैं जिनमे से कुछ मैं आपके साथ Share कर रहा हूँ.

  • Site Speed : इसका मतलब है Particular Site कितने समय में open ओ रहा है. Site Open होने में ज्यादा time लगता है तो Readers का Response अच्छा नहीं मिलेगा.
  • Site Design : वैसे तो Design का कोई ज्यादा Value नहीं है लेकिन Font, Font Size, Image Placement, Background यह सब Readers के लिए Comfortable न हो, Site Mobile Responsive न हो तो Bounce Rate High होना स्वाभाविक है.
  • Lack of High Quality Content : High Quality Content की कमीं से भी Bounce Rate ज्यादा हो जाता है.
  • Low Quality Content : 3000 Word के Content में User के लिए helpful कुछ भी नहीं मिला तो Content बेकार. साथ ही Title के according Post नहीं लिखा होने से भी बुरा असर पड़ता है.
  • Single Page Site : Blog के Post में किसी दुसरे Post का Link नहीं है. ऐसे में User Next Page पर Visit करेंगे इसका संभावनाम है.
  • Copy Paste Content :  Copy Paste Content का कोई Value नहीं है. Readers को भी समझ आता है यह Content किसी और Website से लिया गया है.
  • Blog Post Writing Format : एक Standard Writing Format को Follow न करना भी गलत बात है. सही Format use नहीं करने पर Readers को पूरा Post पढने के बाद भी कुछ समझ नहीं आता और आगे से वो Site Visit नहीं करना चाहता है.
  • Bad or No Interlinking : Blog Post में दुसरे post का Link न होना या गलत तरीके से होना.

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *